Monday, June 17, 2024

न्यूज़ अलर्ट
1) अक्षरा और अंशुमान की जोड़ी की पहली फिल्म "ऐसा पति मुझे दे भगवान" का ट्रेलर 14 जून को होगा रिलीज.... 2) द. अफ्रीका के खिलाफ बांग्लादेश की हार, अंपायर के फैसले पर उठे सवाल.... 3) नॉर्वे शतरंज: मैग्नस कार्लसन, जू वेनजुन ने जीते खिताब.... 4) दुनिया में रोनाल्डो जितना खतरनाक कोई खिलाड़ी नहीं : सुनील छेत्री.... 5) यूपी की जनता ने नफरत, हिंसा के खिलाफ वोट दिया - राहुल गांधी.... 6) कांग्रेस की हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड में चुनाव की तैयारी, हर विधानसभा के लिए नियुक्त होगा प्रभारी.... 7) जनता ने भाजपा के सारे नारों की निकाली हवा : अजय राय....
युवराज सिंह ने विराट कोहली के तारीफ के पढ़े कशीदे, कहा- ‘इस युग में सभी…’
Thursday, May 9, 2024 5:11:24 PM - By News Desk

युवराज सिंह - विराट कोहली
IPL 2024 अब अपने अंतिम चरण की ओर प्रस्थान कर चुका है. वहीं आईपीएल के बाद सभी खिलाड़ी टी20 विश्व कप 2024 खेलते हुए नजर आएंगे. टी20 विश्व कप को लेकर विराट कोहली काफी चर्चा में कोई उनके खेल की त्रुटि निकालने में व्यस्त है. तो कोई उनके खेल की सराहना करने में. इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने भी विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें इस पीढ़ी का सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज बताया है. युवराज सिंह ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए कहा कि विराट कोहली किसी भी खिलाड़ी से अधिक हकदार हैं, वर्ल्‍ड कप मेडल जीतने के लिए. आपकी जानकारी के लिए बता दें, विराट कोहली का ये छठा टी20 वर्ल्ड कप होगा और वह चाहेंगे कि वह इस बार अपनी टीम के साथ इस खिताब को लेकर ही भारत वापस लौटे.
IPL 2024: युवराज सिंह ने ये कहा

युवराज सिंह ने खेले जा रहे आईपीएल 2024 के दौरान विराट कोहली के तारीफ के कशीदे पड़ते हुए कहा, ‘विराट कोहली ने इस युग में सभी रिकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं. वो इस पीढ़ी के सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज हैं, सभी प्रारूपों में. मुझे लगता है कि वो उनमें से एक हैं, जिन्हें वर्ल्ड कप मेडल जीतने की जरूरत है. मुझे विश्वास है कि वो एक मेडल से संतुष्ट नहीं हुआ होगा. मेरे ख्‍याल से वो निश्चित ही मेडल जीतने का हकदार है.’ अपनी बातों को आगे रखते हुए उन्होंने कहा, ‘विराट कोहली अपने खेल को बहुत अच्छी तरह समझता है. वो जानता है कि अगर क्रीज पर हैं तो अंत में भारत को जीत दिला देगा और बड़े मौकों पर वो ऐसा कर चुका है- जैसे कि मोहाली में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ. एक बार उसमें लक्ष्य का पीछा करने का विश्वास आ जाए और स्थिति को जानते हुए, वो जानता है कि कैसे बैटिंग करना है. किस गेंदबाज पर निशाना साधना है और किस गेंदबाज की गेंद पर सिंगल लेना है. वो अपना खेल बदलकर खेलता है.’