Monday, June 17, 2024

न्यूज़ अलर्ट
1) अक्षरा और अंशुमान की जोड़ी की पहली फिल्म "ऐसा पति मुझे दे भगवान" का ट्रेलर 14 जून को होगा रिलीज.... 2) द. अफ्रीका के खिलाफ बांग्लादेश की हार, अंपायर के फैसले पर उठे सवाल.... 3) नॉर्वे शतरंज: मैग्नस कार्लसन, जू वेनजुन ने जीते खिताब.... 4) दुनिया में रोनाल्डो जितना खतरनाक कोई खिलाड़ी नहीं : सुनील छेत्री.... 5) यूपी की जनता ने नफरत, हिंसा के खिलाफ वोट दिया - राहुल गांधी.... 6) कांग्रेस की हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड में चुनाव की तैयारी, हर विधानसभा के लिए नियुक्त होगा प्रभारी.... 7) जनता ने भाजपा के सारे नारों की निकाली हवा : अजय राय....
जिम्मेदारी और गर्व से करें मतदान-चुनाव आयोग
Sunday, April 21, 2024 - 1:41:54 AM - By News Desk

Symbolic Picture
विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में 18वीं लोकसभा और चार राज्य विधानसभा चुनाव-2024 के पहले चरण केलिए आज सवेरे से मतदान का शुभारंभ हो चुका है। भारत निर्वाचन आयोग ने लोकतंत्र के सबसे बड़े त्योहार में मतदाताओं की बढ़चढ़कर भागीदारी और उनके स्वागत केलिए घर से लेकर मतदान केंद्र तक हर प्रकार की तैयारियां की हुई हैं। इस अवसर पर निर्वाचन आयोग ने स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण, सुलभ, सहभागी और प्रलोभन मुक्त मतदान कराने केलिए अपनी अडिग प्रतिबद्धता को भी दोहराया है। बीते दो वर्ष में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में आयोग एवं इसकी टीमों ने मतदाताओं को सर्वोत्तम संभव अनुभव प्रदान करने केलिए आवश्यक और सावधानीपूर्वक क्रियाकलापों को पूरा किया है। लगभग 97 करोड़ मतदाता वोट देने केलिए उत्सुक हैं। निर्वाचन आयोग ने पूरी ईमानदारी से मतदाताओं से अपने घरों से बाहर निकलने, मतदान केंद्र पर जाने एवं जिम्मेदारी और गर्व से मतदान करने की अपील की है। राष्ट्रीय स्तरपर प्रसारित एक संदेश में सीईसी राजीव कुमार ने सभी मतदाताओं से बिना चूके मतदान करने की अपील की है।
मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार और निर्वाचन आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू सहित आयोग ने पहले चरण को सुचारू रूपसे संचालित करने केलिए मतदान संबंधी विभिन्न तैयारियों को अंतिम रूप दिया है। पहला चरण 21 राज्यों/ केंद्रशासित प्रदेशों के 102 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों और अरुणाचल एवं सिक्किम विधानसभा के 92 विधानसभा क्षेत्रों में हो रहा है, इसमें सभी चरणों के मुकाबले संसदीय क्षेत्रों की संख्या सबसे अधिक है। मतदान सुबह 7 बजे शुरू होकर शाम 6 बजे समाप्त होगा (मतदान बंद होने का समय संसदीय क्षेत्र के अनुसार भिन्न हो सकता है)। चुनाव आयोग ने चुनाव के शांतिपूर्ण और सुचारू संचालन केलिए कई निर्णायक कदम उठाए हैं, मतदान केंद्रों पर पर्याप्त रूपसे केंद्रीय बलों की तैनाती की गई है, माइक्रो ऑब्जर्वर की तैनाती केसाथ 50 प्रतिशत से अधिक मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की गई है। पानी, शेड, शौचालय, रैंप, स्वयंसेवक, व्हीलचेयर और बिजली जैसी सुनिश्चित न्यूनतम सुविधाएं मौजूद हैं, ताकि बुजुर्गों और विकलांग व्यक्तियों सहित प्रत्येक मतदाता आसानी से अपना वोट डाल सकें। स्थानीय थीम केसाथ 102 संसदीय क्षेत्रों में मॉडल मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। पंजीकृत मतदाताओं को मतदाता सूचना पर्चियां वितरित कर दी गई हैं, ये पर्चियां एक सुविधा संबंधी उपाय के रूपमें और आयोग की ओर से मतदान करने केलिए आने के निमंत्रण के रूपमें भी काम करती हैं। मतदाता लिंक https://electoralsearch.eci.gov.in/ के जरिए अपने मतदान केंद्र का विवरण और मतदान की तारीख देख सकते हैं।