Sunday, February 25, 2024

न्यूज़ अलर्ट
1) मल्टी टैलेंटेड स्टार : पंकज रैना .... 2) राहुल गांधी की न्याय यात्रा में शामिल होंगे अखिलेश, खरगे की तरफ से मिले निमंत्रण को स्वीकारा.... 3) 8 फरवरी को मतदान के दिन इंटरनेट सेवा निलंबित कर सकती है पाक सरकार.... 4) तरुण छाबड़ा को नोकिया इंडिया का नया प्रमुख नियुक्त किया गया.... 5) बिल गेट्स को पछाड़ जुकरबर्ग बने दुनिया के चौथे सबसे अमीर इंसान.... 6) नकदी संकट के बीच बायजू ने फुटबॉलर लियोनेल मेस्सी के साथ सस्पेंड की डील.... 7) विवादों में फंसी फाइटर, विंग कमांडर ने भेजा नोटिस....
हार्स ट्रेडिंग की आशंका में रिसॉर्ट पॉलिटिक्स, खराब मौसम के कारण एयरपोर्ट से वापस लौटे विधायक
Friday, February 2, 2024 - 12:15:13 AM - By News Desk

वापस लौटे विधायक
झारखंड में सरकार बनाने को लेकर अब खींचतान लंबी होती दिखाई दे रही है.राज्यपाल से मुलाकात के जेएमएमएम और कांग्रेस के विधायक एक-एक कर एयरपोर्ट पहुंचे. हालांकि मौसम मे आई खराबी के कारण उड़ान को रद्द कर दिया गया. अब बात का भी अंदाजा लगाया जा रहा है कि नई सरकार के लिए अभी जनता को लंबा इंतजार करना पड़ सकता है.
जेएमएम की ओर से लगातार ये दावा किया जा रहा है कि उनके पास 43 विधायक हैं और वो सभी बस से एयरपोर्ट पहुंच रहे हैं. जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार विधायकों को हैदराबाद या फिर तेलंगाना ले कर जाया जा सकता है. हालांकि इस संबंध में खबर लिखे जाने तक सटीक जानकारी नहीं मिल सकी है.
बताया जा रहा है कि विधायकों को वहां से निकालने के लिए 2 चार्टेड प्लेन तैयार किए गए हैं. हालांकि मौसम की खराबी के कारण आज कुछ विमानों को रद्द किया गया था. ऐसे में विमान आज उड़ान भरती है या नहीं ये देखने वाली बात होगी.


यह कहना गलत नहीं होगा कि एयरपोर्ट पहुंचे विधायकों को देखकर ये स्पष्ट है कि नंबर गेम के साथ ही झारखंड में रिसॉर्ट पॉलिटिक्स की शुरूआत हो गई है.
इसके पहले राज्यपाल सी.पी. राधाकृष्णन ने विधायक दल के नए चुने गए नेता चंपई सोरेन से मुलाकात की. इस दौरान आलमगीर आलम, प्रदीप यादव, सत्यानंद भोक्ता और विनोद सिंह मौजूद रहे. राज्यपाल ने ही इन पांच नेताओं को मिलने का वक्त दिया था.
चंपई सोरेन ने कहा, हमें सरकार बनाने के लिए बहुमत का दावा किए हुए 22 घंटे हो गए हैं. राज्यपाल ने कहा कि जल्द ही निर्णय लेंगे. बता दें कि चंपई सोरेन ने राज्यपाल को वो वीडियो भी दिखाया जिसमें हमारे 43 विधायक दिखाई दे रहे हैं.

हालांकि इस संबंध में राज्यपाल ने कहा था कि वो जल्द ही निर्णय लेंगे। बताय़ा जा रहा है कि चंपई सोरेन को 16 घंटे तक राजभवन से बुलावे का इंतजार करना पड़ा था. जिसके बाद उन्होंने गुरुवार दोपहर करीब दो बजे राज्यपाल को पत्र लिखा था ओर तब जाकर उन्हें राज्यपाल से मिलने का समय मिला था।
चंपई सोरेन ने कहा था कि हमने 47 विधायकों के समर्थन के दावे और 43 विधायकों की साइन का समर्थन पत्र आपको सौंपा है। 43 विधायक बुधवार को राजभवन के गेट के बाहर भी खड़े थे। पिछले 18 घंटों से राज्य में कोई सरकार नहीं है। चंपई सोरेन ने यह भी कहा है कि राज्यपाल अगर संतुष्ट होना चाहें तो सभी 43 विधायक राजभवन पहुंच सकते हैं।

बहरहाल, इस पत्र के बाद राजभवन की ओर से चंपई सोरेन को शाम 5.30 बजे मुलाकात का वक्त दिया गया है। यदि उनका दावा स्वीकार किया गया तो आज ही उन्हें मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई जा सकती है। हालांकि इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टी नहीं की गई है.

इधर, ईडी ने कोर्ट से हेमंत सोरेन का 10 दिनों का रिमांड मांगा था। बहस के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया गया, अगली सुनवाई 2 फ़रवरी को। हेमंत सोरेन होटवार जेल भेजे जा रहे, उन्हें वहां अपर डिवीजन सेल में रखा जायेगा।