Friday, August 7, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) कोरोना से रक्षा नहीं कर सकता एन - 95 मास्क.... 2) जियो ने लॉन्च किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप 'जियो मीट '.... 3) बीएमसी की लापरवाही से जा रही स्वास्थ्यकर्मियों की जान.... 4) मुंबई में सेवानिवृत्ति समारोह संपन्न.... 5) चीन ने की बड़ी हिमाकत , भारत दे रहा उसका जवाब.... 6) अपर्याप्त संख्याबल के कारण सहार पुलिस स्टेशन में लगभग 1870 प्रवासी मजदूरों के आवेदन पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं- विधायक पराग अलवनी.... 7) गृह मंत्रालय ने दी बड़ी छूट, घर जा सकेंगे प्रवासी मजदूर....
वक्री शनि अब मार्गी हो गए है ,ढैया और साढ़े साती से पीड़ितो को राहत मिलेगी।
Sunday, September 22, 2019 - 1:06:09 AM - By आचार्य रजनीश मिश्रा

वक्री शनि अब मार्गी हो गए है ,ढैया और साढ़े साती से पीड़ितो को राहत मिलेगी।
प्रतीकात्मक चित्र
वक्री शनिदेव 18 सितंबर को दोपहर 2 बजकर 18 मिनट पर मार्गी हो गए है अब यानी वक्री शनि अब मार्गी होंने पर क्या फल मिलेगा उसी पर चर्चा कर रहे है।

शनि के मार्गी होने का अलग-अलग असर 12 राशियों पर पड़ेगा।
धर्मग्रंथों में शनिदेव को क्रूर होने के साथ न्याय के देवता माना जाता हैं। शनिदेव मनुष्य के कर्म के आधार पर उसे फल प्रदान करते हैं। फिलहाल शनि धनु राशि में गोचर कर रहे हैं, लेकिन अब यह 18 सितंबर से धनु राशि में ही वक्री से मार्गी हो गए है । इनके मार्गी होने से सभी राशियों पर इसका प्रभाव देखने को मिलेगा।

धनु राशि का स्वामी गुरु है। धनु राशि में शनि के साथ केतु भी रहेंगे। शनि कर्म और सेवा का कारक ग्रह माना जाता है। शनि मकर व कुंभ राशि का स्वामी है। शनि तुला राशि में उच्च का व मेष राशि में नीच का हो जाता है।
राशियों पर प्रभाव :

मेष : शनि आपकी राशि के नवें भाव में मार्गी हो रहे हैं। इससे मेष राशि वालों को आर्थिक लाभ होगा।

वृषभ: इस राशि के जातकों के लिए शनि आठवें भाव में मार्गी होंगे। इससे कष्टों से छुटकारा मिलेगा।

मिथुन : इस राशि के जातकों के सातवें भाव में शनि के मार्गी होने से सहयोगियों के साथ संबंध अच्छे रहेंगे।

कर्क: शनि छठे भाव में मार्गी होने से कोर्ट कचहरी में लाभ मिलेगा। विदेश जाने के योग बनेंगे।

सिंह : शनि पांचवें भाव में मार्गी होने से संतान सुख मिलेगा। नौकरी बदलने के योग बन सकते हैं।

कन्या : शनि चौथे भाव में मार्गी से भूमि, भवन, वाहन मिलने के योग बनेंगे।

तुला : शनि तीसरे भाव में मार्गी होने से साहस में वृद्धि और यात्राओं के योग बनेंगे।

वृश्चिक : वृश्चिक राशि के जातकों पर साढ़े साती का प्रभाव है। इस राशि में शनि दूसरे भाव में रहेंगे जिससे पैतृक संपत्ति में लाभ होगा।

धनु : धनु राशि के जातक भी साढ़े साती के प्रभाव में हैं। शनिदेव धनु राशि के जातकों के लग्न में रहेंगे जिससे स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।
मकर : शनि 12वें भाव में मार्गी रहेंगे। मकर राशि के जातकों पर साढ़े साती का प्रभाव है। विदेश जाने के योग बन सकते है।

कुंभ : शनि 11वें भाव में होने से लाभ के योग के साथ नए अवसर मिलेंगे।

मीन : शनि इस राशि के 10वें भाव में रहेंगे, जिससे कार्यक्षेत्र में ख्याति मिल सकती है।

आचार्य रजनीश मिश्रा
मो नं 9029512777