Sunday, December 15, 2019

न्यूज़ अलर्ट
1) पूर्व CJI रंजन गोगोई पर विशाल का अपमानजनक ट्वीट, सिंगर पर भड़के यूजर्स.... 2) महाराष्ट्र पर सुनवाई में जब जस्टिस बोले- यहां लोग PM बनने की भी मांग करते हैं.... 3) खूंखार आतंकी बगदादी की मौत को लेकर ट्रंप ने बोला झूठ? ताजा रिपोर्ट्स में नए खुलासे से मची खलबली.... 4) बैन झेलने के बाद Lionel Messi की अर्जेंटीना फुटबॉल टीम में हुई वापसी.... 5) येस बैंक को सितंबर तिमाही में हुआ 629 करोड़ रुपये का एकीकृत घाटा.... 6) महाराष्‍ट्र में सरकार गठन पर बोले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, लोगों को जल्‍द ही पता चल जाएगा कि....... 7) कांग्रेस का दावा, WhatsApp स्पाइवेयर के जरिए प्रियंका गांधी का फोन भी किया गया हैक....
इसबगोल है फायदेमंद
Friday, December 6, 2019 - 11:24:14 AM - By स्वास्थ्य डेस्क

इसबगोल है फायदेमंद
इसबगोल कब्‍ज ही नहीं दस्‍त की समस्‍या भी करता है दूर
इसबगोल कब्‍ज ही नहीं दस्‍त की समस्‍या भी करता है दूर, जानिए इसके अन्‍य फायदों के बारे में


1
इसबगोल की उत्पत्ति
आयुर्वेद के अनुसार इसबगोल की उत्पत्ति का मुख्य स्रोत्र इरान में है. इसबगोल इरान से भारत में आयात किया जाता है. आजकल इसबगोल की भारत में भी खेती की जाने लगी है जैसे की गुजरात, उत्तरप्रदेश, पंजाब, और हरियाणा राज्यों में. औषधीय उपयोग के लिए इसके बीज और भूसी, दोनों का इस्तेमाल किया जाता है.


2
इसबगोल की विशेषताएं
इसबगोल के पौधे की ऊंचाई लगभग 12 से 18 इंच होती है और यह सीजनल पैदा होता है. इसबगोल के पौधे की नोक पर तीन पत्तियां जिन्हें अलग नहीं किया जा सकता, होती है ये गेहूं के पौधों के समान लगता है. इसका कोई तना नहीं होता और ये एक जड़ी बूटी की श्रेणी में आता है.


3
इसबगोल की विशेषताएं
इसबगोल के पौधे की शाखाओं पर छोटे फूल के साथ ही नाव के आकार का फल भी होता है. इसबगोल की भूसी सफेद रंग की राख जैसी होती है. जैसे ही भूसी पानी के साथ मिल जाती है ये एक चिपचिपा पदार्थ बन जाता है. इसबगोल में ना कोई गंध है और ना ही कोई स्वाद है.


4
इसबगोल के तत्व
इसबगोल के रासायनिक संयोजन में गोंद और एल्ब्यूमिन की एक बड़ी मात्रा होती है. आमतौर पर गोंद और सेल्यूलोज इसबगोल की भूसी में पाए जाते हैं. इसबगोल ऑयली होने के साथ-साथ पेचिश और दस्त को नियंत्रित करता है. भूसी मल त्याग में मदद करता है. यह स्वाद में मीठा, शांत और पौष्टिक होता है. ये वात, पित्त और कफ का कारण शरीर से बाहर निकालता है.


5
इसबगोल की भूसी के फायदे - दस्त और डायरिया में राहत
दस्त और डायरिया से राहत पाने के लिए दही के साथ इसबगोल लेने से आराम मिलता है. दही या योगर्ट पेट के लिए गुणकारी होता है. अगर इसबगोल दही या योगर्ट के साथ लिया जाए तो डायरिया से तेजी से राहत मिलती है.

विधि - दस्त और डायरिया में राहत 6/15
6
विधि - दस्त और डायरिया में राहत
6 चम्मच दही के साथ 3 चम्मच भूसी के मिक्स करके बिस्तर पर जाने से पहले और भोजन के बाद खाने से तेजी से राहत मिलती है. जल्दी राहत के लिए एक दिन में दो बार ले सकते है.


7
इसबगोल की भूसी के फायदे - कब्ज में मदद
मानो या न मानो इसबगोल इकलौता ऐसा भोजन है जो की कब्ज और दस्त, दोनों में मदद करता है. इसबगोल में जिलेटिन होने की वजह से जैसे ही ये पाचन तंत्र में फैलता है तो ये कब्ज़ की रोकथाम में मदद करता है.


8
विधि - कब्ज में मदद
गर्म दूध के साथ 2 चम्मच इसबगोल की भूसी मिक्स करके बिस्तर पर जाने से पहले इसे ले लें. यदि समस्या गंभीर है तो आप इसके प्रभाव में वृद्धि करने के लिए चीनी के 1 छोटा चम्मच जोड़ सकते है. अगर दूध उपलब्ध नहीं है तो गर्म पानी के साथ भी इसे लिया जा सकता है.


9
इसबगोल की भूसी के फायदे - एसिडिटी में मदद
कभी-कभी हमारी गलत आदतों जैसे की फास्ट फूड खाने या कम नींद की वजह से एसिडिटी होना आम बात हो गई है. इस समस्या के लिए एक सुरक्षित उपाय घर में इसबगोल की भूसी का होना है. भूसी पेट के अंदर एक सुरक्षा परत बनाकर जलन से बचाने में मदद करती है. इसके प्रभाव से एसिड कम हो जाता है.


10
विधि - एसिडिटी में मदद
दूध या पानी में भूसी के 1-2 चम्मच मिक्स करके लेने से एसिडिटी से तुरंत राहत मिलती है. गर्म पानी या गर्म दूध के साथ लेने से इसका प्रभाव उल्टा हो सकता है. दूध या पानी बहुत ठंडा नहीं होना चाहिए, कमरे के तापमान पर दुध या पानी के साथ मिक्स करके सबसे अच्छा काम हो सकता है.


11
इसबगोल की भूसी के फायदे - वजन घटाने में मददगार
इसबगोल वजन घटाने में मदद करता क्यूंकि इसबगोल की भूसी खाने से ये पेट में फैल जाता है. ये भोजन की भूख को कम करके हमारे भोजन के बीच के समय को बढ़ा देता है. ये हमारे पाचन तंत्र को ठीक से चलाने में मदद करके भोजन को अच्छे से पचाता है जिससे अधिक फैट हमारे शरीर को नहीं लगता.


12
विधि - वजन घटाने में मददगार
सुबह या भोजन से पहले गर्म पानी और आधा नींबू के रस के साथ भूसी के 1-2 चम्मच मिक्स करके लेने से वजन कम होता है. सुबह में गर्म पानी, 1 चम्मच शहद का, 1 चम्मच नींबू का रस मिक्स करके लेने से वजन कम होने में मदद करता है.


13
इसबगोल की भूसी के फायदे - हृदय रोगों की रोकथाम में मदद
इसबगोल में फाइबर होने के कारण ये भोजन में मौजूद अतिरिक्त वसा और तेल को सोख कर जैल के रूप में परिवर्तित केर देता है. ये जैल कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा के साथ मल के द्वारा अन्य कचरे के साथ शरीर से समाप्त हो जाते है.


14
विधि - हृदय रोगों की रोकथाम में मदद
विधि-पानी में भूसी का एक छोटा चम्मच मिलाकर प्रभावी परिणाम पाने के लिए एक दिन में 2 बार ले. दिल से संबंधित बीमारियों के साथ लड़ने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करें.


15
इसबगोल के अन्य स्वास्थ्य लाभ
1. ये सांस की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने में मदद करता है. 2. दांत के दर्द का अच्छा इलाज है. सिरका में इसबगोल मिक्स करके लगाए. 3. ये सि‍र में दर्द के इलाज के लिए मददगार है. 4. सांस लेने की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए इसबगोल राहत देता है. 5. ब्लड शुगर में इंसुलिन के रूप में ये उपयोग किया जा सकता है.