Friday, August 7, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) कोरोना से रक्षा नहीं कर सकता एन - 95 मास्क.... 2) जियो ने लॉन्च किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप 'जियो मीट '.... 3) बीएमसी की लापरवाही से जा रही स्वास्थ्यकर्मियों की जान.... 4) मुंबई में सेवानिवृत्ति समारोह संपन्न.... 5) चीन ने की बड़ी हिमाकत , भारत दे रहा उसका जवाब.... 6) अपर्याप्त संख्याबल के कारण सहार पुलिस स्टेशन में लगभग 1870 प्रवासी मजदूरों के आवेदन पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं- विधायक पराग अलवनी.... 7) गृह मंत्रालय ने दी बड़ी छूट, घर जा सकेंगे प्रवासी मजदूर....
गुजरात के मुख्य सचिव रहे मुर्मू होंगे जम्मू-कश्मीर के पहले उपराज्यपाल, मोदी के करीबियों में होती है गिनती
Saturday, October 26, 2019 12:53:36 AM - By न्यूज डेस्क

गिरीश चंद्र मुर्मू
केंद्र की बीजेपी सरकार ने गुजरात में नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री रहते हुए मुख्य सचिव रहे वरिष्ठ आईएएस अफसर गिरीश चंद्र मुर्मू को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का पहला उपराज्यपाल बनाया है। वहीं सत्यापाल मलिक का तबादला गोवा कर दिया गया है।
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी कर उसका विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने और राज्य को दो हिस्से कर केंद्र शासित प्रदेश किए जाने का मोदी सरकार का फैसला 31 अक्टूबर से प्रभावी हो जाएगा। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर का सारा प्रशासन केंद्र की मोदी सरकार के अधीन हो जाएगा। इसी कवायद में केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नजदीकी माने जाने वाले वरिष्ठ आईएएस अफसर गिरीश चंद्र मुर्मू को राज्य का पहला उपराज्यपाल नियुक्त किया है।

60 वर्षीय गिरीश चंद्र मुर्मू 1985 बैच के गुजरात कैडर के आईएएस अफसर हैं और फिलहाल वित्त मंत्रालय में एक्सपेंडिचर सेक्रेटरी (व्यय विभाग के सचिव) हैं। मुर्मू की गिनती नरेंद्र मोदी के बेहद नजदीकी माने जाने वाले अफसरों में होती है।
गौरतलब है कि जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तो मुर्मू गुजरात में ही तैनात थे और उन्हें अहम जिम्मेदारी सौंपी गई थी। वे गुजरात के मुख्य सचिव थे। इस साल के शुरु में मुर्मू ने वित्त विभाग में व्यय सचिव का कामकाज संभाला था, हालांकि उनकी नियुक्ति का ऐलान पिछले साल किया गया था।

गिरीश चंद्र मुर्मू मूलत: ओडिशा के रहने वाले हैं। उत्कल विश्वविद्यालय से पोस्टग्रेजुएट तक की पढ़ाई के बाद वे यूनिवर्सिटी ऑफ बर्मिंघम से एमबीए करने चले गए थे, इसके बाद प्रशासनिक सेवा में आए।

इस बीच सरकार ने राधा किशन माथुर को लद्दाख का उपराज्यपाल नियुक्त किया है, साथ ही जम्मू-कश्मीर के वार्ताकार रहे दिनेश्वर शर्मा को लक्ष्यदीप का प्रशासक नियुक्त किया है।