Thursday, February 27, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) बीमार पिता से नकार पाकिस्तान का करती जय जयकार.... 2) असम संस्कृति की रक्षा करना सरकार का दायित्व.... 3) गरवारे शिक्षण संस्थान में मनाया गया वसंतोत्सव.... 4) आम नागरिक की मांग निजीकरण करो सरकार .... 5) मनसे के आंदोलन से घबराकर उद्धव ठाकरे ने बुलाई बैठक.... 6) 'मीडिया में विज्ञापन की भूमिका' पर संचार-संवाद का आयोजन.... 7) राष्ट्रीय स्तर पर NRC लाने का अभी तक नहीं हुआ कोई निर्णय - नित्यानंद राय ....
सीबीआई ने देर रात तक की गिरफ़्तार चिदंबरम से पूछताछ
Friday, August 23, 2019 11:21:01 AM - By न्यूज़ डेस्क

आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम से गुरुवार देर रात तक पूछताछ की गई
लंबी कानूनी लड़ाई और लुकाछिपी के बाद आखिर पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम गिरफ़्तार कर ही लिए गए. INX मीडिया मामले में सीबीआई की गिरफ्त में पहुंचे पी. चिदंबरम की गुरुवार की रात सलाखों के पीछे बीती. दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट की तरफ से उन्हें 26 अगस्त तक कस्टडी में भेज दिया गया है. गुरुवार रात हिरासत के दौरान पी. चिदंबरम के घर से ही उनके लिए डिनर आया, साथ ही कुछ कपड़े भी आए.

गुरुवार शाम को कोर्ट की सुनवाई के बाद जब उन्हें दोबारा सीबीआई हेडक्वार्टर ले जाया गया, तो उनसे कुछ सवाल-जवाब भी हुए. पी. चिदंबरम से सीबीआई के अफसरों ने सवाल पूछे, ये सवाल FIPB अप्रूवल, INX मीडिया को मिली FDI से जुड़े मसलों के थे.

पूछताछ के बाद उन्हें डिनर दिया गया, जो कि उनके घर से ही आया था. उनके घर से कुछ कपड़े भी आए थे. जिसके बाद पी. चिदंबरम सोने के लिए चले गए. अब शुक्रवार को एक बार फिर सीबीआई उनसे पूछताछ करेगी.

आपको बता दें कि सीबीआई ने INX मीडिया केस में बुधवार देर रात को पी. चिदंबरम को उनके घर से गिरफ्तार किया था, जिसके बाद गुरुवार को उन्हेें कोर्ट में पेश किया गया. राउज एवेन्यू कोर्ट ने ही चिदंबरम को 26 अगस्त तक के लिए सीबीआई की कस्टडी में भेजा है.

पी. चिदंबरम की ओर से अदालत में कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी, विवेक तन्खा ने दलीलें रखीं और पूर्व मंत्री को तुरंत जमानत देने की मांग की. वकीलों की तरफ से कई तरह के तर्क दिए गए और सीबीआई द्वारा उनकी गिरफ्तारी को गलत बताया. साथ ही ये भी कहा कि सीबीआई के पास पी. चिदंबरम के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं हैं.

हालांकि, कोर्ट में चिदंबरम के वकीलों की ये दलीलें काम नहीं आई और अदालत ने पूर्व मंत्री को सीबीआई की हिरासत में भेज ही दिया. इससे पहले बुधवार की रात को जब उन्हें सीबीआई हेडक्वार्टर ले जाया गया तब भी उनसे कोई सवाल नहीं पूछे गए थे, बस मेडिकल चेकअप करवाया गया था.

सीबीआई की तरफ से गुरुवार सुबह ही पूर्व मंत्री से कई सवाल पूछे गए, जिनमें INX मीडिया की विवादित डील, FDI समेत अन्य कुछ बातें थीं.