Tuesday, January 21, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) CAA के खिलाफ राजघाट पर कांग्रेस का सत्याग्रह, राहुल बोले- जो देश के दुश्मन नहीं कर पाए, वो मोदी करना चाहते हैं.... 2) हार स्‍वीकारते हुए रघुवर दास ने मुख्‍यमंत्री पद से दिया इस्‍तीफा.... 3) बुमराह और धवन की भारतीय टी20 और वनडे टीम में वापसी, रोहित को आराम.... 4) 'बधाई हो' के लिए अवॉर्ड लेने व्हीलचेयर पर पहुंचीं सुरेखा सीकरी.... 5) 'बलिदान दिवस' पर याद किये गये काकोरी कांड के शहीद .... 6) IPL नीलामी : मार्कस स्टोइनिस को 4.80 करोड़ में दिल्ली कैपिटल्स ने खरीदा.... 7) NRC और CAA पर ममता की मांग, UN की देखरेख में हो जनमत संग्रह....
विजय माल्या का राज्यसभा से इस्तीफा- 9000 करोड़ रुपये का कर्ज लेकर भागने का है आरोप
Tuesday, May 3, 2016 - 7:47:10 AM - By एजेंसी

विजय माल्या का राज्यसभा से इस्तीफा- 9000 करोड़ रुपये का कर्ज लेकर भागने का है आरोप
फ़ाइल फ़ोटो
भारतीय बैंकों से तकरीबन नौ हजार करोड़ रुपये का कर्ज लेकर डिफाल्टर होकर विदेश भागे विजय माल्या ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। भारत सरकार ने उनका पासपोर्ट रद्द किया हुआ है। राज्यसभा सदस्य के रूप में माल्या का यह दूसरा कार्यकाल था। कर्नाटक से राज्यसभा के स्वतंत्र सदस्य माल्या ने अपना इस्तीफा राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी को भेजा है। सभापति से जुड़े एक सूत्र ने यह जानकारी दी।
माल्या ने राज्यसभा की आचार समिति के अध्यक्ष डॉ. कर्ण सिंह को भी पत्र भेजा है।

राज्यसभा की आचार समिति ने माल्या की सदस्यता समाप्त करने की सिफारिश की थी। समिति ने माल्या को जवाब देने के लिए एक सप्ताह का वक्त दिया था जो मंगलवार को समाप्त हो रहा था।

माल्या के मुद्दे पर आचार समिति की बैठक के बाद अध्यक्ष डॉ. कर्ण सिंह ने कहा था, "हम सर्वसम्मति से इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि विजय माल्या की राज्यसभा सदस्यता समाप्त कर दी जाए।"

माल्या का इस्तीफा समिति की बैठक के एक दिन पहले आया। मंगलवार को होने वाली इस बैठक में माल्या को राज्यसभा से निकाले जाने पर मुहर लगनी थी।

सूत्रों ने कहा कि माल्या ने पत्र में खुद को निर्दोष बताया है।

60 वर्षीय माल्या के विरुद्ध एक भारतीय अदालत ने पिछले सप्ताह गिरफ्तारी वारंट जारी किया था।

देश में विभिन्न बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये ऋण चुकाने में असफल रहे उद्योगपति विजय माल्या इन दिनों ब्रिटेन की हर्टफोर्डशायर काउंटी में 1.5 करोड़ डॉलर के बंगले में रहते हैं। उन्होंने बैंकों के इस ऋण का एक हिस्सा चुकाने की बात कही थी।

संसद सूत्रों के मुताबिक राज्यसभा में लगभग 10 सालों तक सांसद रहने के बावजूद माल्या ने अपनी संपत्तियों का मूल्य 'शून्य' दिखाया था। माल्या का राज्यसभा का कार्यकाल 30 जून को समाप्त होने वाला था।

विदेश मंत्रालय ने हाल में ही माल्या का पासपोर्ट रद्द कर दिया, जिसके बाद उन्हें स्वदेश भेजने की संभावना बढ़ गई है।