Saturday, July 11, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) जियो ने लॉन्च किया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप 'जियो मीट '.... 2) बीएमसी की लापरवाही से जा रही स्वास्थ्यकर्मियों की जान.... 3) मुंबई में सेवानिवृत्ति समारोह संपन्न.... 4) चीन ने की बड़ी हिमाकत , भारत दे रहा उसका जवाब.... 5) अपर्याप्त संख्याबल के कारण सहार पुलिस स्टेशन में लगभग 1870 प्रवासी मजदूरों के आवेदन पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं- विधायक पराग अलवनी.... 6) गृह मंत्रालय ने दी बड़ी छूट, घर जा सकेंगे प्रवासी मजदूर.... 7) ग्रह मंत्रालय ने दी बड़ी छूट, घर जा सकेंगे प्रवासी मजदूर....
भारत के वैज्ञानिकों ने खोजा कोरोना का जिनोम , वैक्सीन बनाने में मिलेगी मदद
Thursday, April 16, 2020 - 11:38:28 PM - By पुरुषोत्तम कनौजिया

वायरस

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इसे रीट्वीट करते हुए वैज्ञानिकों को बधाई दी तथा मानवजाति के कल्याण में इसे एक मील का पत्थर बताया। जीबीआरसी ने कोरोना संक्रमित अलग-अलग सौ लोगों के सैंपल लिए तथा उनका डीएनए टेस्ट किया। जोशी बताते हैं कि कोरोना वायरस में एक माह में दो बार परिवर्तन देखे गए, वह तेजी से बदलता है, लेकिन यह बेहद मामूली होता है।

स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव डॉ जयंती रवि ने बताया कि वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस के मूल को खोजा है। कोविड 19 में अब तक 9 म्यूटेशन पाए गए हैं। गुजरात की स्टेट लैब ने 3 नए म्यूटेशन को खोजा है। इससे पहले 6 म्यूटेशन खोजे जा चुके हैं। शोध से कोविड की हिस्ट्री का पता चलेगा, साथ ही उसकी दवा या वैक्सीन ईजाद करने में मदद मिलेगी।