Thursday, June 20, 2019

न्यूज़ अलर्ट
1) सुदेश बेरी चा आपल्या मुलाच्या डेब्यूट चित्रपटासाठी सल्ला.... 2) 'फैनी' का खतरा, ओडिशा-केरल समेत कई राज्यों में हाई अलर्ट घोषित .... 3) मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष पद से निरुपम की छुट्टी- मिलिंद देवड़ा बने नए अध्यक्ष .... 4) चेन्नई का IPL 2019 टूर्नामेंट में विजयी आगाज-बेंगलुरू को 7 विकेट से हराया .... 5) आरएसएस स्वयंसेवक के घर पर देसी बम फटा, दो बच्चे घायल, घर से मिले घातक हथियार.... 6) 70 गैर सरकारी संगठन हुए एकजुट- चलाएंगे मोदी विरुद्ध कैंपेन .... 7) जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष बने देश के पहले लोकपाल- राष्ट्रपति कोविंद ने लगाई मुहर....
मैच फिक्सिंग मर्डर से भी बड़ा अपराध है: धोनी
Tuesday, March 12, 2019 11:05:20 AM - By एजेंसी

महेंद्र सिंह धोनी
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने जल्द ही रिलीज होने वाली डाक्यूमेंटरी में कहा है कि उनके लिये सबसे बड़ा अपराध हत्या करना नहीं बल्कि मैच फिक्सिंग करना होगा।गौरतलब है कि 2013 आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग विवाद के जब चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पर प्रतिबंध लगा था, उसके बाद से धोनी ने इस विवाद पर कुछ नहीं कहा था। उस विवाद ने क्रिकेट जगत में खलबली मचा दी थी और चेन्नई के अलावा राजस्थान रॉयल्स की टीम पर भी प्रतिबंध लग गया था। हालांकि दो साल बाद वापसी करते हुए चेन्नई की टीम ने धोनी की अगुवाई में पिछले साल फिर खिताब जीत लिया। अब निलंबन के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स की पिछले साल आईपीएल में वापसी पर केंद्रित एक नई डाक्यूमेंटरी ‘रोर ऑफ द लायन’ के 45 सेकेंड के ट्रेलर में धोनी ने काफी कुछ कहा है। आइए जानते हैं उन्होंने क्या कुछ कहा।

धोनी इस ट्रेलर में आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग विवाद पर कहते नजर आए हैं, कि, ‘टीम इसमें (मैच फिक्सिंग) में शामिल थी, मुझ पर भी आरोप लगा था। यह हम सभी के लिये कठिन दौर था। वापसी करना भावुक क्षण था और मैंने हमेशा ही कहा है, जिस चीज से आपकी मौत नहीं होती, वो आपको मजबूत बनाती है।’ यह डाक्यूमेंटरी 20 मार्च को रिलीज हो रही है। धोनी ने 2018 में चेन्नई फ्रेंचाइजी की अगुवाई करते हुए तीसरा आईपीएल खिताब दिलाया और टूर्नामेंट में स्वप्निल वापसी की। टीम पर 2013 स्पाट फिक्सिंग प्रकरण में इसके प्रबंधन की भूमिका के लिये दो साल का प्रतिबंध लगा था।

फिलहाल महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल के लिए तैयार हैं। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे सीरीज के अंतिम दो मुकाबलों से धोनी को आराम दे दिया गया था। धोनी की जगह रिषभ पंत को टीम में जगह दी गई लेकिन चौथे वनडे मैच में रिषभ पंत ने विकेट के पीछे काफी गलतियां कीं जिसके बाद मैदान से लेकर सोशल मीडिया तक हर जगह धोनी की वापसी की गूंज सुनाई दी है।

महेंद्र सिंह धोनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और अब वो सिर्फ सीमित ओवर क्रिकेट टीम का हिस्सा हैं। अब फैंस उनको आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में खेलते दिखाई देंगे जहां वो टीम इंडिया के मुख्य विकेटकीपर होंगे इसके संकेत पहले ही दिए जा चुके हैं।

अगर बात करें धोनी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के भविष्य की तो कयास हैं कि वो आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। हाल ही में जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनके घरेलू मैदान रांची में वनडे मैच खेला गया तो धोनी की इस तरह हौसलाअफजाई हुई थी जैसे उनके मैदान पर ये उनका आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच था। खैर, धोनी का फैसला धोनी खुद ही करेंगे और देखना दिलचस्प होगा कि ये महान खिलाड़ी क्रिकेट को कब अलविदा कहता है।