Wednesday, December 19, 2018

न्यूज़ अलर्ट
1) गाँधी जयंती पर 'मारवा' का स्वच्छता अभियान.... 2) मुंबई विद्यापीठ से संबद्ध कॉलेजों में 29 सितम्बर तक प्रवेश.... 3) मुंबई और आसपास के इलाकों में ठंडी हवा के साथ बारिश.... 4) राफेल डील पर एनसीपी बैकफुट पर- सफाई, देते हुए कहा शरद पवार ने मोदी को नहीं दी क्लीन चिट.... 5) सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ- पराक्रम पर्व का पीएम ने किया उद्घाटन.... 6) पेट्रोल डीजल की कीमतों में फिर बड़ी बढ़ोतरी.... 7) सार्क मीटिंग में सुषमा स्वराज ने किया नजरअंदाज तो भड़का पाकिस्‍तान, जताई नाराजगी....
सिल्‍वर जीत लौटी सिंधू का हैदराबाद एयरपोर्ट पर शानदार स्‍वागत
Monday, August 22, 2016 10:31:09 AM - By एजेंसी

हैदराबाद पहुंचीं सिंधु, चैंपियन की तरह हुआ स्वागत
रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतकर करिश्माई प्रदर्शन करने वाली भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु जब हैदराबाद एयरपोर्ट पर पहुंची तो मानो पूरा शहर अपनी बेटी के जश्न में शामिल हो गया.
इस दौरान खेल प्रशंसकों ने पीवी सिंधु और उनके कोच पुलेला गोपीचंद का भव्य स्वागत किया. विजय रैली निकाली गई और सिंधु के साथ गोपीचंद पर फूल बरसाए गए.
एयरपोर्ट पर भारी संख्या में उनके प्रशंसक मौजूद थे. पीवी सिंधु ने हाथ हिलाकर सभी लोगों का अभिवादन स्वीकार किया. सिंधु करीब 9 बजकर 33 मिनट पर राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पहुंचीं, यहां से उनका भव्य स्वागत शुरू हो गया. इसके बाद वह खुली बस से गाचीबावली स्टेडियम के लिए रवाना हुईं.
तेलंगाना और आंध्र प्रदेश सरकार ने सिंधु पर इनामों की बारिश कर दी है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने पीवी सिंधु को पांच करोड़ रुपए इनाम, हैदराबाद में 1,000 वर्ग गज रिहायशी भूमि और एक सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है. साथ ही सिंधु के कोच पुलेला गोपीचंद को भी उनकी बैडमिंटन अकादमी के लिए एक करोड़ रुपए का इनाम देने का ऐलान किया गया है.
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने सिंधु को तीन करोड़ रुपए नकद पुरस्कार राशि और गोपीचंद को 50 लाख रुपए का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की थी.
दरअसल, पीवी सिंधु ने रियो ओलंपिक में रजत पदक जीतकर देश को दूसरा पदक दिलाया. बैडमिंटन महिला एकल वर्ग के फाइनल में सिंधु ने स्पेन की कैरोलिना मारिन ने कड़ी टक्कर दी, लेकिन उसे रजत पदक से संतोष करना पड़ा. विश्व की सर्वोच्च वरीयता प्राप्त महिला खिलाड़ी मारिन ने सिंधु को 19-21, 21-12, 21-15 से मात देकर स्वर्ण पदक हासिल किया.
सिंधु का यह पहला ओलंपिक था और उन्होंने अपने पहले ओलंपिक में इतिहास रच दिया. वह फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी थी और साथ ही बैडमिंटन में भारत को रजत पदक दिलाने वाली भी पहली खिलाड़ी.
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित कई हस्तियों ने सिंधु को उनकी इस उपलब्धि के लिए बधाई दी.